Now the appellate authority of the federal government will hear | अब सुनवाई करेगा सरकार का अपीलीय प्राधिकार

भागलपुर3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सितंबर 2019 में काम और उसी वर्ष अगस्त से वेतन से राेके गए टीएनबी काॅलेज के 14 कर्मचारियाें के मामले की सुनवाई अब सरकार का अपीलीय प्राधिकार करेगा। पहली सुनवाई 21 जून काे हाेगी जिसके कर्मियाें काे बुलाया गया है। इसकाे लेकर मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग के प्रशाखा पदाधिकारीऔर लाेक सूचना पदाधिकारी अजय कुमार सिंह ने पत्र जारी किया है। प्रभावित कर्मचारियाें में से कुछ ने पीएमओ से मामले की शिकायत कर कहा था कि टीएमबीयू के कुछ अधिकारियाें और कुछ पूर्व पदाधिकारियाें ने एकतरफा निर्णय करते हुए उन्हें काम और वेतन से राेक दिया। जब इन लाेगाें ने अपना पक्ष रखा ताे इनसे घूस मांगा गया था। इनका मामला सेवा सामंजन का था जिसे नियुक्ति से जुड़ा बताकर शिक्षा विभाग ने सुनवाई कर दी थी। इसमें 14 संबंधित कर्मियाें में से जाे लाेग शामिल नहीं थे, उन पर भी कार्रवाई कर दी गई। कर्मियाें ने अप्रैल में पीएमअाे से शिकायत की थी। जानकार लाेगाें ने बताया कि 14 में से एक या दाे लाेगाें के मामले में भी अपीलीय प्राधिकार जाे निर्णय लेगा उससे ज्यादातर बाकी लाेग भी प्रभावित हाेंगे।

इधर इसी मामले की जांच के लिए टीएमबीयू में बनाई गई कमेटी अब तक फाइल ढूंढने में अटकी हुई है। रजिस्ट्रार डाॅ. निरंजन कुमार यादव ने कुलपति प्राे. नीलिमा गुप्ता के निर्देश पर आठ दिन पहले कमेटी बनाई थी ताे उसे जल्द रिपाेर्ट देने काे कहा था। लेकिन अब तक कमेटी की एक बैठक हुई है। कमेटी ने पहले तय किया कि उसे काैन-काैन सी फाइल जांच के लिए चाहिए। फिर तीन दिन पहले लीगल सेक्शन, स्थापना शाखा और

पेंशन शाखा से इन 14 कर्मचारियाें से जुड़ी फाइलें मांगी गईं। लेकिन कमेटी काे ये फाइलें शुक्रवार तक नहीं मिली थीं। कमेटी ने तीनाें सेक्शन से लिखित रूप में मांगा है कि वे जाे फाइलें दे रहे हैं उसके बाद इन कर्मियाें की और काेई फाइन उनके पास नहीं है। ऐसे में अब तीनाें शाखाएं इन कर्मियाें की फाइलें खंगाल रही हैं। यह भी कहा जा रहा है कि कर्मियाें ने वेतन अाैर काम से राेकने का मामला राजभवन तक पहुंचाया था और राजभवन से पड़ताल का निर्देश मिलने पर टीएमबीयू ने कमेटी बनाई।

खबरें और भी हैं…

Supply hyperlink

0Shares

Leave a Reply