Girls and youth will get 10-10 lakh rupees for establishing industries in Bihar, half the quantity waived | बिहार में उद्योग लगाने के लिए महिला व युवाओं को मिलेंगे 10-10 लाख रुपए, आधी रकम माफ

पटना3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

उद्योग विभाग का पोर्टल लॉन्च करते नीतीश। शाहनवाज भी जुड़े थे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को महिला और युवकों के लिए उद्योग लगाने की योजनाएं शुरू कीं। महिला व युवकों को 10-10 लाख रुपए मिलेंगे। इसमें आधी रकम नहीं लौटानी है। शेष 5 लाख रुपए लौटानी होगी। महिलाओं को इसके लिए सूद नहीं देना पड़ेगा। युवकों को सिर्फ 1% सूद लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन योजनाओं से महिलाओं एवं युवाओं में स्वरोजगार को और बढ़ावा मिलेगा। 2018 में एससी-एसटी के लिए यह योजना शुरू हुई। पिछले साल मुख्यमंत्री अति पिछड़ा उद्यमी योजना शुरू की गई। अब इस नई योजना से सभी वर्ग की महिलाएं व युवक उद्यमिता की तरफ आकर्षित होंगे।

कहा कि राज्य का विकास तभी होगा जब पुरुष के साथ महिलाएं भी काम करेंगी। महिलाओं की भागीदारी बढ़ी है। इससे आर्थिक स्थिति सुढृढ़ हुई है। जिस तत्परता एवं सामंजस्य से काम हो रहा है इससे बिहार में उद्योग बढ़ेगा, तरक्की होगी एवं बिहार विकसित राज्य बनेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना के प्रति सभी को सतर्क एवं सजग रहना है। मुख्यमंत्री ने उद्योग विभाग के नए पोर्टल www.udyami.bihar.gov.in का लोकार्पण भी किया।

शेष 5 लाख पर 1% ब्याज लगेगा, महिलाओं को छूट

महिला उद्यमी योजना के तहत उद्योग लगाने के लिए अधिकतम 10 लाख मिलेंगे। इसमें 5 लाख रुपए अनुदान के रूप में तथा बाकी 5 लाख रुपए ब्याज मुक्त ऋण के रुप में उपलब्ध कराया जाएगा। युवा उद्यमी योजना के तहत उद्योग लगाने के लिए अधिकतम 10 लाख रुपये मिलेंगे। इसमें 5 लाख अनुदान के रुप में तथा बाकी 5 लाख रुपये ऋण के रूप में 1 प्रतिशत ब्याज पर उपलब्ध कराया जाएगा। दोनों योजनाओं में दो टर्म में रुपए दिए जाएंगे।

खबरें और भी हैं…

Supply hyperlink

0Shares

Leave a Reply