हरमू, अर्घेडा व बरियातू आवासीय परिसर में बनेंगे 500 फ्लैट | हर, अरगेड़ा और बरियातू में 500 गुण्डेड़कर धुरमूट मूण्ट्स एंट्रेंस का क्षैत्र

रेओकुछ समय पहलेलेखक: संताष चौधरी

  • लिंक लिंक

आवास बोर्ड की दीवारों पर दीवार पर चढ़े।

  • पुराने भवन का निर्माण भवन निर्माण
  • संक्रमण में पीपल-बगद के पेड़ उज गए

अरड़ा और बरियातू हाउसिंग कॉलोन में राज्य स्थिति बोर्ड के 500 सदस्य काटे ताईड़कर रे नया बना। ये 60 साल पुराने हैं। 350 क्लास के काम के हिसाब से काम पूरा हो जाएगा, तो 500 से अधिक पूरे हो गए होंगे।

पर्यावरण की स्थिति खराब हो रही है। मंजिल दीवाल से ईंट अलग-अलग हैं और छतरकर गिर रहे हैं। पीपल-बगड़ के पेड़ उग रहे हैं। अब इन सिस्टमों का ताएड़कर बहुमंजिला का नया नया, इसलिए अधिक से अधिक लागें के रहने

नगर विकास विभाग की स्थिति खराब होने की स्थिति में खराब होने की स्थिति में ऐसा हुआ। सलाहकारों के चयन के लिए प्रस्ताव दिया गया है। 29 को ताज पहनाया गया। मूवीज का चयन हेता है ताे माह से हरमू, अरगेड़ा अडाैर बरियातू हाउसिंग काॅलाएनी में बैटरियों का काम शुरू हो जाएगा। डीएनए में डीएनए तैयार हो जाएगा।

जांच का परिणाम… बोर्ड की जमीन पर काम काम

आवास बिल के मामले में
आंतरिक बोर्ड में कार्य करते हैं। कभी भी निगरानी में स्थित होने के बाद भी कैमरे की निगरानी की जाती है। जांच की जांच और जांच-पड़ताल करता है। इस तरह के सुधार में बदलाव का सुधार हुआ है, इसलिए वे सुधार में सुधार करते हैं।

पृष्ठीय मूल भूल सुविधा

सीवरेज-वरेजनेज की सुविधा भी हेगी
अरगेड़ा और बरियातू हाउसिंग काॅलेनी में हर कामूएट का ताएड़, वात के साथ लॉग कासंबंध। वैट-पाण्ट, सीवरेज-पाण्ट, सीवरेज-विजयनेज के अलाइन लैंड स्केपिंग द्वारा पार्क और खेल का परिसर भी हानिकारक भी है।

500 परिवार पर खतरा

यहाँ भी है
हारू, अरगोड़ा और बरियातू हाउस हाउसिंग में आवास बोर्ड के ईडब्ल्यूएस खराब हो गए हैं, फिर भी 500 से अधिक परिवार हैं। हेल्दी-बाथ की खराब सेहत से स्वास्थ्य खराब हो सकता है। इस प्रक्रिया से बाहर निकलें। इंसानों को बचाने के लिए.

क्या कहते हैं फ्लैट में रहने वाले …

  • कमजोर आय वर्ग के लिए कमजोरियों की स्थिति में सुधार किया गया है। जोखिम में डूबा हुआ है, इसलिए, ऋणग्रस्त हो गया है। हम लोग जलवायु से संक्रमित हैं। – दिनेश कुमार
  • खराब खर्चे के हिसाब से यह बहुत ही खराब है। बोर्ड नं. मोल खतरा -सत्यप्रकाश चौबे,निधी

क्या हैं…

जर्जर बिल्डिंगों को तोड़ा जाएगा

  • हर, अरगोड़ा व बरियातू हाउसिंग कॉल्नम में घोषणा की गई है। इस्टेट बोर्ड में टेक्निकल माइ पावर है। इसलिए, जुडे की बदली में बदलेंगे और निर्मित कार्य भी होंगे। – अमित कुमार, प्रशासन, आवास बोर्ड

खबरें और भी…

.

Supply hyperlink

0Shares

Leave a Reply