सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर; बैंकिंग शेयरों में गिरावट, आईटी शेयरों में तेजी

कोल इंडिया निफ्टी में शीर्ष पर रहा, स्टॉक 3 प्रतिशत से अधिक बढ़कर 52-सप्ताह के उच्च स्तर 165 रुपये पर पहुंच गया।

बैंकिंग, वित्तीय सेवाओं और पूंजीगत वस्तुओं के शेयर बिकवाली के दबाव में आने से भारतीय इक्विटी बेंचमार्क सत्र में रिकॉर्ड ऊंचाई पर आ गए। हालांकि, सूचना प्रौद्योगिकी शेयरों में खरीदारी ने बेंचमार्क के लिए गिरावट को सीमित कर दिया। इससे पहले सत्र में, सेंसेक्स 341 अंक बढ़कर 52,641.53 के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया और निफ्टी 50 इंडेक्स 15,835.55 के सर्वकालिक उच्च स्तर को छू गया। सेंसेक्स में रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंफोसिस, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और एचडीएफसी ट्विन्स शीर्ष मूवर्स में से थे।

दोपहर 12:18 बजे तक सेंसेक्स 133 अंक ऊपर 52,434 पर और निफ्टी 50 इंडेक्स 13 अंक बढ़कर 15,751 पर था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज द्वारा संकलित 11 सेक्टरों में से सात निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स के करीब 1 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे। निफ्टी बैंक, फाइनेंशियल सर्विसेज, मीडिया, प्राइवेट बैंक और रियल्टी इंडेक्स में भी 0.5-0.8 फीसदी की गिरावट आई।

वहीं, निफ्टी आईटी इंडेक्स 1.65 फीसदी चढ़ा।

मुनाफावसूली के कारण मिड-कैप शेयरों में बिकवाली का दबाव रहा, जिसमें निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 0.05 फीसदी गिर गया, जबकि निफ्टी स्मॉलकैप 100 इंडेक्स 0.4 फीसदी चढ़ा।

कोल इंडिया शीर्ष निफ्टी गेनर था, स्टॉक 3 प्रतिशत से अधिक बढ़कर 165 रुपये के नए 52-सप्ताह के उच्च स्तर पर पहुंच गया। टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, इंफोसिस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, पावर ग्रिड, बजाज फाइनेंस, टेक महिंद्रा, डॉ रेड्डीज लैब्स, टाटा मोटर्स, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, आयशर मोटर्स, विप्रो और एचडीएफसी बैंक भी लाभ में रहे।

फ्लिपसाइड पर, अदानी पोर्ट्स, भारतीय स्टेट बैंक, एसबीआई लाइफ, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी लाइफ, इंडसइंड बैंक, ग्रासिम इंडस्ट्रीज, यूपीएल और एक्सिस बैंक हारने वालों में से थे।

कुल मिलाकर बाजार की चौड़ाई तटस्थ थी क्योंकि बीएसई पर 1,568 शेयर ऊंचे कारोबार कर रहे थे जबकि 1,476 शेयर गिर रहे थे।

.

Supply hyperlink

0Shares

Leave a Reply