भारत के ‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

01 / २७

स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े खेल आइकन में से एक, इक्का-दुक्का धावक मिल्खा सिंह का 18 जून, 2021 को COVID-19 के साथ एक महीने की लंबी लड़ाई के बाद निधन हो गया। यहां उनके बेटे जीव मिल्खा सिंह द्वारा इंस्टाग्राम पर साझा की गई आइकन की एक दुर्लभ तस्वीर है।

02 / २७

परिवार की ओर से एक बयान में कहा गया, “बहुत दुख के साथ सूचित किया जा रहा है कि मिल्खा सिंह जी का 18 जून 2021 को रात 11.30 बजे निधन हो गया।”

03 / २७

महान भारतीय एथलीट मिल्खा सिंह ने 26 सितंबर, 2017 को जेडब्ल्यू मैरियट में मैडम तुसाद के लिए अपने मोम के पुतले का अनावरण किया।

(बीसीसीएल)

04 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

आईजीपी गोल्फ टूर्नामेंट के दौरान मिल्खा सिंह के साथ हाथ मिलाते हुए संजय दत्त की एक पुरानी तस्वीर यहां दी गई है।

(बीसीसीएल)

05 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

एम वेंकैया नायडू ने 04 मार्च, 2018 को पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़ के 67वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में मिल्खा सिंह को खेल रत्न पुरस्कार प्रदान किया।

(बीसीसीएल)

06 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

07 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

मिल्खा सिंह ने 20 नवंबर, 2019 को अपने आवास पर परिवार के सदस्यों के साथ अपना 90वां जन्मदिन मनाया।

(बीसीसीएल)

08 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

यह ज्ञात तथ्य है कि अपने चरम अभ्यास सत्रों के दौरान, मिल्खा सिंह बेहोश हो जाते थे। कई मौकों पर वह थूकता था और उसे ऑक्सीजन की आपूर्ति करनी पड़ती थी।

09 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

एथलीट ने यह भी दावा किया कि उन्होंने 1968 से कोई फिल्म नहीं देखी है। लेकिन ‘भाग मिल्खा भाग’ देखने के बाद उनकी आंखों में आंसू आ गए।

10 / २७

भारत के 'फ्लाइंग सिख' मिल्खा सिंह की तस्वीरों में जीवन

मिल्खा सिंह को भारतीय सेना ने तीन बार खारिज कर दिया था। चौथे प्रयास में उनका चयन हो गया।

.

Supply hyperlink

0Shares

Leave a Reply